कश्मीर…

पाकिस्तान की आज की हरकतों को देखकर फिर एक बार यह स्पष्ट हो गया है कि पाकिस्तान हमसे बात करना ही नहीं चाहता। मुझे तो यही लगता है कि पाकिस्तान से बात करने का कोई फायदा भी नहीं है और न उससे कुछ हासिल होने वाला है। पाकिस्तान की रुचि कश्मीर मुद्दे को सुलझाने से ज्यादा उलझाए रखने में है क्योंकि इससे उसको दोहरा फायदा होता है। एक तो कश्मीर की मुक्ति के नाम पर पाकिस्तान भारत में आतंकवाद फैलाकर यहां अशांति और अस्थिरता कायम रख पाता है और दूसरी तरफ वहां की सरकारों और नेताओं को बाहर से करोड़ों आगे पढ़ें …